Blogu.org – World News Blog
Image default
Latest News

शहीद कर्नल आशुतोष शर्मा को राजकीय सम्मान के साथ दी गई अंतिम विदाई, आंखें हुईं नम


जयपुर: हंदवाड़ा के आतंकी हमले में शहीद हुए कर्नल आशुतोष शर्मा को राजकीय सम्मान के साथ जयपुर में अंतिम विदाई दी गई. कर्नल आशुतोष शर्मा आतंकियों के खिलाफ हंदवाड़ा में ऑपरेशन लीड कर रहे थे तभी आतंकियों के हमले में वो शहीद हो गए. शहीद कर्नल आशुतोष इससे पहले भी ऐसे कई ऑपरेशन लीड कर चुके थे. उन्हें वीरता के लिए 2 गैलेंट्री अवॉर्ड भी मिले थे.

शहीद कर्नल आशुतोष शर्मा की दिलेरी के किस्से आज पूरा हिंदुस्तान गर्व से सुन रहा है. कर्नल की शहादत पर कई आंखें नम हैं. लेकिन कर्नल के परिवार की दिलेरी पूरे देश के लिए किसी मिसाल से कम नहीं है. ना मां और पत्नी की आंखों में आंसू है और ना ही प्यारी सी बेटी रो रही है. बल्कि इन्हें अपने कर्नल बेटे पर, अपने कर्नल पति पर, अपने कर्नल पिता पर गर्व है.

शहीद कर्नल आशुतोष शर्मा की पत्नी पल्लवी शर्मा ने कहा कि बस इस समय उनकी बहादुरी के किस्से सुन रही हूं. मेरी आंखों में आंसू नहीं है, मुझे उनपर गर्व हो रहा है. मुझे इस बात का गर्व है कि मैं उनकी पत्नी हूं. मैं उनके नाम से जानी जाऊंगी इस बात का मुझे गर्व है, खुशी है.

गौरतलब है कि एक बार ऑपरेशन के दौरान आतंकी अपने कपड़ों में ग्रेनेड छिपाकर शहीद कर्नल आशुतोष शर्मा के जवानों की तरफ बढ़ रहा था. उस समय बहादुरी का परिचय देते हुए कर्नल आशुतोष ने आतंकी को काफी नजदीक से गोली मारी थी. शहीद कर्नल आशुतोष को इस बहादुरी के लिए वीरता पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.

बता दें कि बीते 3 मई को जम्‍मू-कश्‍मीर के हंदवाड़ा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में एक कर्नल, एक मेजर, एक पुलिस ऑफिसर समेत 5 जवान शहीद हो गए थे. शहीद होने वालों में से एक जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस का भी अधिकारी शामिल था. एक घर में छिपे आतंकियों से आम नागरिकों को बचाने के प्रयास में ये जवान शहीद हुए.

LIVE TV





Source link

Related posts

हंदवाड़ा के शहीदों को पीएम मोदी का नमन, कहा- कभी बुला नहीं सकेंगे बलिदान

diljeetratan

Lockdown: दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासी नागरिकों को वापस लाएगी उत्तराखंड सरकार, जारी किए मोबाइल नंबर, पढ़ें पूरी डिटेल

diljeetratan

Protest for lockdown in France, followed by US and Brazil, riots erupt in Paris; Police charged with vandalism and racism | अमेरिका और ब्राजील के बाद फ्रांस में भी लॉकडाउन का विरोध, पेरिस में दंगा भड़का; पुलिस पर बर्बरता और नस्लभेद का आरोप

diljeetratan

Leave a Comment